पंचशक्ति मुद्रा के फेफड़ों सम्बंधित लाभ

पंचशक्ति मुद्रा के लाभ

पँचशक्ति हस्त मुद्रा निर्माण:-अपनी पांचों उंगलियों के सिरों को आपस में मिला कर रखें – मगर एक दूसरे से सटा कर रखने के स्थान पर सभी उंगलियों में कुछ दूरी बना कर रखें।

फेफड़े संबंधी खराबी और समस्याओं जैसे क्षय रोग आदि के लिए यह मुद्रा बहुत ही लाभदायक है। इसके नियमित अभ्यास से फेफड़े संबंधी समस्याएं दूर रहती हैं। इसके अलावा पंचशक्ति मुद्रा को करने से सांस संबंधी रोग, नजला-जुकाम, बलगम आना, सर्दी ज्यादा लगना, जोड़ों का दर्द  जैसे रेन्यूमेटिक पेन आदि समस्याओं काबू होती हैं व इससे बचाव भी होता है।

0Shares