रोगानुसार मुद्राएँ – हिंदी में

रोगानुसार मुद्राएँ:-

आलस्य- पृथ्वी, प्राणमुद्रा
उ.र.चाप– अपानवायुप्राणमुद्रा 
उत्तेजना- ज्ञान, ध्यानमुद्रा 
एलर्जी- लिंग, शंखमुद्रा 
एसीडिटी– अपानवायुअपानमुद्रा 
कफ– लिंग, सूर्यमुद्रा
कब्ज- अपानमुद्रा 
कमरदर्द– अपानवायु 
खाँसी- लिंग, सूर्यमुद्रा
खुजली- वरुणमुद्रा
गर्दन दर्द- वायुमुद्रा 
गैस्ट्रिक/पेटदर्द– अपानवायुमुद्रा 
घुटना दर्द- अपानवायुमुद्रा
चिन्ता- ज्ञान, ध्यानमुद्रा
चिड़चिड़ापन– ज्ञान, ध्यानमुद्रा 
छींक,उबासी– आदित्यमुद्रा
जलन- वरुण, अपानमुद्रा
जड़ता- प्राणमुद्रा
जबड़ा जकड़ना– आकाशमुद्रा 
जुकाम- लिंग, सूर्यमुद्रा 
टांसिल– शंखमुद्रा
टी.बी.– लिंग, सूर्यमुद्रा
डायबिटीज– प्राण+अपानमुद्रा 
थकान- प्राण, पृथ्वीमुद्रा
थाइराइड- सूर्य,शंख,सहज शंखमुद्रा 
दमा- अपान वायु, सूर्य, लिंगमुद्रा 
दस्त- वरुण,वायु,अपानवायुमुद्रा 
दाँतदर्द– आकाश, अपानमुद्रा 
दुर्बलता- पृथ्वीमुद्रा
निमोनिया- सूर्य, लिंगमुद्रा 
नि.र.चाप– प्राण,लिंग,अपान,आकाश 
निराशा- ज्ञान, प्राणमुद्रा
प्यास बुझाना- वरुण, प्राणमुद्रा 
प्लूरसी– (फेफड़े में पानी) सूर्य, लिंग 
पेशाब बन्द होना- अपानवायुमुद्रा 
पाचन- पृथ्वी, सूर्य, लिंग,सहजशंख 
पैर दर्द- प्राणमुद्रा
बवासीर- सहज शंखमुद्रा 
ब्रह्मचर्य- सहज शंखमुद्रा 
बुखार- अपानवायु, वरुण, लिंगमुद्रा 
बेचैनी- ज्ञान, अपानवायुप्राणमुद्रा 
भय- ज्ञानमुद्रा 
भूख- प्राणमुद्रा 
मासिकधर्म– अपान, शंखमुद्रा 
मूर्छा- वरुणमुद्रा 
याददाश्त- ज्ञानमुद्रा, पुस्तक मुद्रा 
रक्तदोष– वरुण, प्राण, अपानमुद्रा 
लकवा- वायु, प्राणमुद्रा 
लीवर– सूर्य, शंख, सहजशंखमुद्रा 
वजन बढ़ाना- पृथ्वीमुद्रा 
वजन घटाना- सूर्यमुद्रा
शियाटिका– अपानवायुप्राणमुद्रा 
सायनस– सूर्य, लिंगमुद्रा 
सिरदर्द- अपानवायुमुद्रा 
सूजन- जलोदर नाशकमुद्रा 
सोरायसिस– वरुण, अपानमुद्रा 
हकलाना- शंखमुद्रा 
हिचकी- अपानवायुमुद्रा

साभार – http://literature.awgp.org/book/aasan_pranayam_bandh_mudra_panchakosh_dhyan/v1.1

  

0Shares